100+ Best Sad Shayari in Hindi|बेस्ट सैड शायरी

best sad Shayari

हो ताल्लुक तो रूह से ही हो,
दिल तो अक्सर भर ही जाता है।।

प्यार हो या परिंदा, दोनों को आज़ाद छोड़ दो,
अगर लौट आया तो तुम्हारा,
और अगर न लौटा तो वह तुम्हारा था ही नहीं कभी..
Pyaar ho ya parinda,
Dono ko azad chod do,
Agar laut aaya toh tumahara,
Aur agar na lauta toh tumhara kabhi tha hi nahi..

हमें शायर समझ के यूँ नजर अंदाज मत करिये,
नजर हम फेर ले तो हुस्न का बाजार गिर जायेगा।
Humein Shayar Samajh Ke Yoon Najar Andaz Mat Kariye,
Najar Hum Fer Le To Husn Ka Baazar Gir Jayega.

इससे ज़्यादा तुझे और कितना करीब लाऊँ मैं,
कि तुझे दिल में रख कर भी मेरा दिल नहीं भरता।
Iss Se Zyada Tujhe Aur Kitna Qareeb Laaun Main,
Ki Tujhe Dil Mein Rakh Kar Bhi Mera Dil Nahi Bharta.

शिकायत नहीं ज़िंदगी से, की तेरे साथ नहीं,
बस तू खुश रहना यार, अपनी तो कोई बात नहीं..
Shikayat nhi zindagi se, Ki tere sath nhi,
Bas toh khush rahna yaar, Apni toh koi baat nhi…

हक़ीक़त ना सही तुम ख़्वाब बन कर मिला करो,
भटके मुसाफिर को चांदनी रात बनकर मिला करो।
Haqikat Na Sahi Tum Khwab Bankar Mila Karo,
Bhatke Musafir Ko Chaandani Raat Bankar Mila Karo.

भरे बाजार से अक्सर मैं खाली हाथ आया हूँ,
कभी ख्वाहिश नहीं होती कभी पैसे नहीं होते।
Bhare Bazaar Se Aksar Main Khali Haath Aaya Hoon,
Kabhi Khwahish Nahi Hoti Kabhi Paise Nahi Hote.

ये ज़िन्दगी हसीं है इस से प्यार करो,
अभी है रात तो सुबह का इंतज़ार करो,
वो पल भी आएगा जिसकी ख्वाहिश है आपको,
रब पर रखो भरोसा वक़्त पर एतबार करो। Ye Zindagi Hasin Hai Iss Se Pyar Karo,
Abhi Hai Raat To Subah Ka Intezar Karo,
Wo Pal Bhi Ayega Jiski Khwahish Hai Aapko,
Rab Par Rakho Bharosa Waqt Par Aitbar Karo.

बहुत दर्द हैं ऐ जान-ए-अदा तेरी मोहब्बत में,
कैसे कह दूँ कि तुझे वफ़ा निभानी नहीं आती।
Bahut Dard Hai Ai Jaan-e-Adaa Teri Mohabbat Mein,
Kaise Keh Doon Ki Tujhe Wafa Nibhani Nahi Aati.

अजीब हैं मेरा अकेलापन न तो खुश हूँ,
न ही उदास हूँ, बस खाली हूँ और खामोश हूँ..
Ajeeb hain mera akelapan, Na toh khush hoon,
Na hi udaas hoon, Bas khali hoon aur khamosh hoon..

एक उम्र बीत चली हैं, तुझे चाहते हुए,
तू आज भी बेखबर हैं, कल की तरह..
Ek umra beet chali hain, Tujhe chahte hue,
Tu aaj bhi bekhabar hain, Kal ki tarah…

जो सबको संभालने की कोशिश करता हैं न,
उसको संभालना हर कोई भूल जाता हैं…
Jo sabko sambhalne ki koshish karta hain na,
Usko sambhalna har koi bhool jata hain…

जख्म ही देना था, तो पूरा जिस्म तेरे हवाले था,
मगर कम्बख्त तूने तो, हर वार दिल पर ही किया..
Jhakhm hi dena tha, Toh pura jism tere hawale tha,
Magar kambakht tune toh, Har waar dil।par hi kiya..

ऐसे तो हर कोई प्यार प्यार कहता रहता हैं,
मगर एक सच्चे प्यार की कीमत वही जानता हैं,
जिसने प्यार तो किया हैं, मगर उसे उसका प्यार मिला ही नहीं..
Aise toh har koi, Pyaar pyaar kahta rahta hain,
Magar ek sacche pyaar ki kimat wahi janta hain,
Jisne pyaar toh kiya hain, Magar use uska pyaar mila hi nhi..

आदत बना ली मैंने खुद को तकलीफ देने की
ताकि जब कोई अपना तकलीफ दे तो ज्यादा तकलीफ न हो…
Aadat bana li maine khud ko Takleef dene ki,
Taki jab koi apna takleef de Toh jyada takleef na ho…

ज़िंदगी में हर मौके का फायदा उठाओ,
मगर किसी के भरोसे का नहीं…
Zindagi me har mauke ka fayda uthao,
Magar kisi ke bharose ka nhi…

आज उसने एक और दर्द दिया हैं, तो मुझे याद आया,
मैंने ही तो दुवाओ में,
उसके सारे गम मांगे थे..
Aaj usne ek aur dard diya hain,
Toh mujhe yaad aaya,
Maine hi toh duwa mein,
Uske saare gam maange the..

Emotional sad shayari

जिसका मिलना किस्मत में नहीं होती,
उससे मोहब्बत भी बेइंतहा होती हैं..
Jisse milna kismat me nahi hoti,
Usse mohabbat bhi beimtaha hoti hain..

वो दिन नही वो रात नहीं,
वो पहले जैसे जज्बात नहीं,
होने को तो हो जाती हैं बात उनसे,
मगर बातों में भी पहले जैसे बात नहीं…
Wo din nahi Wo raat nahi,
Wo pehle jaisi jajbat nahi,
Hone ko toh ho jati hain baat unse,
Magar baato me bhi pehle jaisi baat nahi…

मुस्कुराना हमारी मजबूरी हैं,
जिंदगी तो ऐसे भी हमसे नाराज रहती हैं…
Muskurana hamari majboori hain,
Zindagi toh aisi bhi hamse naraj rahti hain..

बेहतर हैं उन रिश्तों का टूट जाना,
जिस रिश्ते की वजह से आप टूट रहे हैं..
Behtar hain un rishto ka tut jana,
Jis rishte ki wajah se aap tut rahe hain..

एक चाहत हैं मेरी,
की एक ऐसा चाहने वाला हो मेरा,
जो चाहने में बिल्कुल भी मेरे जैसा हो…
Ek chahat hain meri,
Ki Ek Aisa chahne wala ho,
Jo chahne me bilkul bhi mere jaisa ho..

दर्द सहते सहते, लोग हँसना नहीं,
रोना भी छोड़ देते हैं..
Dard sahte sahte, Log hasna nahi,
Rona bhi chod dete hain…

तुम चाहती हो की,
तुमसे बिछड़कर भी खुश रहू,
इसका मतलब रूह भी निकले,
पर जान भी न जाए..
Tum chahti ho ki,
Tumse bichadkar bhi khush rahu,
Iska matlab rooh bhi nikle
Par jaan bhi na jaye..

अजीब हैं इस दुनिया के लोग मेरे खुदा,
जितना ही मोहब्बत करों,
उतना ही गिरा हुआ समझ लेते हैं…
Ajeeb hain is duniya ke log mere khuda,
Jitni hi mohabbat karo,
Utna hi gira hua samajh lete hain…

ज़िंदगी होगी तो कल फिर फिक्र होगी तेरी,
अगर कल चल बसे तो अपना ख्याल जरूर रखना..
Zindagi hogi toh kal fir fikra hogi teri,
Agar kal chal base toh apna khayal jarur rakhna…

बेइम्तहाँ मोहब्बत हो गई हैं उनसे,
कैसे बताऊँ हम उन्हें,
तारीफ करूँ, शजदा करू या उन्हें सीने से लगाउ…
Beimtaha mohabbat ho gayi hain unse,
Kaise batau hum unhe,
Tarif karu, shajda karu ya unhe seene se lagau…

Sad love shayari

आँसू आ जाते है रोने से पहले,
ख्वाब टूट जाते है सोने से पहले,
लोग कहते है मोहब्बत गुनाह है,
काश कोई रोक लेते गुनाह होने से पहले।

सिर्फ सहने वाला ही जानता है,
की दर्द कितना गहरा है।

सच जान लो अलग होने से पहले,
सुन लो मेरी भी अपनी सुनने से पहले,
सोच लेना मुझे भुलने से पहले,
रोई है बहुत ये आंखे मुस्कुराने से पहले.

जिंदगी तो कट ही जाती है,
बस यही एक जिंदगी भर,
गम रहेगा की हम उसे ना पा सके.

उन्हें चाहना मेरी कमज़ोरी हैं;
उनसे कह नहीं पाना मेरी मज़बूरी हैं;
वो क्यों नहीं समझते मेरी खामोशी;
क्या प्यार का इज़हार करना जरुरी हैं.

याद बन कर मुझे सताओ ना तुम इस तरह,
तेरी याद में मेरा रो रो कर बुरा हाल है,
बस एक बार मेरी ज़िन्दगी में वापस आ जाओ,
मेरे दिल में बस अब तेरा ही ख्याल है.

इश्क़ ऐसा था कि उनको बता ना सके,
चोट थी दिल पे जो दिखा ना सके,
नहीं चाहते थे हम उनसे दूर होना,
लेकिन दूरी इतनी थी कि हम मिटा ना सके.

ये तो सच है ये ज़िन्दगानी उसी को रुलाती है,
जिसके आँसू पोछने बाला कोई नही होता है.

वो दर्द दे गए सितम भी दे गए,
ज़ख्म के साथ वो मरहम भी दे गए,
ओ लफ्जो से कर गए अपना मन हल्का,
हमे कभी न रोने की कसम दे गए.

कहाँ कोई मिला ऐसा जिसपे दिल लुटा देते,
हर एक ने धोखा दिया किस किसको भुला देते,
अपने दर्द को दिल ही में दवाये रखा,
करते बयां तो महफ़िलों को रुला देते.

न सीरत नज़र आती है,
न सूरत नज़र आती है,
यहाँ हर इंसान को बस,
अपनी ज़रूरत नज़र आती है.

हम जले तो सब चिराग समझ बैठे,
जब महके तो सब गुलाव समझ बैठे,
मेरे लफ्जों का दर्द किसी ने नहीं देखा,
शायरी पड़ी तो शायर समझ बैठे.

Sad shayari in hindi

गुजरता वक़्त हमें एहसास दिला देता है,
जिसे चाहते हैं हम वो ही दिल दुखा देता है,
वक़्त मरहम लगा देता है जिन जख्मो पर,
कोई अपना उस दर्द को फिर से जागा देता है

बरसो गुजर गए रोकर नहीं देखा,
आँखों में नींद थी सोकर नहीं देखा,
आखिर वो क्या जाने दर्द मोहब्बत का,
जिसने किसी को कभी खोकर नहीं देखा.

किसी की याद दिल में आज भी है,
वो भूल गए मगर हमें प्यार आज भी है;
हम खुश रहने की कोशिश तो करते हैं मगर,
अकेले में आंसू बहते आज भी हैं.

याद आती है तो ज़रा खो जाते हैं;
आँसू आँखों मे उतार आए तो रो जाते हैं;
नींद तो आती नही आँखो में;
लेकिन ख्वाब में आप आओगे, सोचकर सो जाते हैं.

किसी की याद दिल में आज भी है,
वो भूल गए मगर हमें प्यार आज भी है;
हम खुश रहने की कोशिश तो करते हैं मगर,
अकेले में आंसू बहते आज भी हैं.

कभी अपनों को भूलाना ना आया;
किसी के दिल को दुखाना ना आया;
दुसरो की याद में तड़फन्ना तो सिख लिया;
अपनी यादो में किसी को तड़फ़ाना ना आया.

हो सकता है हमने आपका अनजाने में कभी दिल दुःखा दिया,
लेकिन तूने हमे दुनिया के कहने पर भुला दिया,
हम तो इस दुनिया में वैसे भी अकेले ही थे,
तो क्या हुआ तूने हमे ये एहसास दिला दिया.

मेरी खामोशियों में भी फ़साना ढूँढ़ लेती है,
बड़ी शातिर है ये दुनिया बहाना ढूँढ़ लेती है,
हकीकत ज़िद किये बैठी है चकनाचूर करने को,
लेकिन ये आँख फिर सपना सुहाना ढूँढ़ लेती है.

Dard sad shayari

यादो में किसी का दीदार नही होता है,
सिर्फ याद करना ही प्यार नही होता है,
यादों में किसी की हम भी तड़पतें हैं,
बस हमसे दर्द का इज़हार नही होता है.

बहुत से रिश्ते खत्म होने की ये भी वजह होती है,
एक सही से बोल नही पाता है,
और एक सही से समझ नही पाता है.

जब किसी की बाते आप के साथ छोटी हो जायें,
तो समझ जाओ की वो कहीँ और लम्बी हो रही हैं.

हमे आदत नही है हर एक पर मर मिटने की,
तुझ में बात ही कुछ ऐसी थी,
दिल ने मोहलत ही न दी कुछ सोचने की.

कभी अपनों को भूलाना ना आया;
किसी के दिल को दुखाना ना आया;
दुसरो की याद में तड़फन्ना तो सिख लिया;
अपनी यादो में किसी को तड़फ़ाना ना आया.

दर्द है दिल में पर इसका एहसास नही होता है,
रोता है दिल जब वो पास नही होता है,
हम बर्बाद हो गये उसके प्यार में,
और वो कहते हैं,
इस तरह से कभी प्यार नही होता है.

जिनके पास जिंदगी में देने के लिये,
मोहब्बत के सिवा कुछ नही होता है,
उन्हें जिंदगी में दर्द के सिवा कुछ नही मिलता है.

इन आँखों में सूरत तेरी सुहानी है,
मोम की तरह से पिघल रही मेरी जबानी है,
जिस तरह से सितम हुए थे हम पर,
मर जाना चाहिये था,
पर जिन्दा है, ये बड़ी हैरानी है.

तुझे लगता है रो रहा हूँ मैं,
लेकिन अपनी आँखों को धो रहा हूँ.

उम्मीद जिनसे थी वही तनहा कर गए,
आज के बाद किसी से नही कहेंगे की तू मेरा है.

ज़ख्म तो आज भी ताज़ा है बस वो निशान चला गया,
इश्क तो आज भी बेपनाह है बस वो इंसान चला गया.

हमने उनसे प्यार किया, ये मेरे प्यार की हद थी,
हमने उन पर एतवार किया, ये मेरे एतवार की हद थी,
मर कर भी खुली रही मेरी आँखे, ये मेरे इंतज़ार की हद थी.

आजकल सफाईयां देना छोड़ दी है मैंने,
हां मैं बहुत बुरी हूँ, यही सीधी सी बात है.

दिल छोड़ कर और कुछ माँगा करो हमसे,
हम टूटी हुई चीज़ का तोहफा नही देते है.

बेशक वो खूबसूरत तो वो आज भी है,
लेकिन वो मुस्कान नही है,
जो हम तेरे चहरे पर लाया करते थे.

न जाने क्यों ये लहरे समंदर से टकराती है,
और फिर समंदर में लौट जाती है,
कुछ समझ नही पाते की किनारों से वेबफाई करती है,
या समंदर से वफ़ा निभाती है.

पत्थरों से प्यार किया क्योंकि नादान थे हम,
गलती हुई क्योंकि इंसान थे हम,
आज जिन्हें हमसे नजरे मिलाने में तकलीफ होती है,
कल उसी इंसान की जान थे हम.

Best sad shayari

कभी गम तो कभी वेबफाई मार गई,
कभी उनकी याद आई तो जुदाई मार गई,
जिसको हमने बेइन्तहा मोहब्बत की,
आखिर में हमे उसी की वेबफाई मार गई.

डूब जाऊ सुमन्द्र मे, तो प्यास ना रहे;
ये साँस थम जाये, तो आस ना रहे;
ख़ुशी मिले ज़िन्दगी में सबको इस कदर कि;
किसी को हमारी कमी का एहसास ना रहे.

आँखे हँसती हैं, मग़र दिल ये रोता है,
जिसे हम अपनी मंजिल समझे हैं,
उसका हमसफ़र कोई और ही होता है.

क्या खाक तरक्की की है इस दुनिया ने,
इश्क के मरीज़ तो आज भी वे इलाज़ बैठे हैं.

क्यों नहीं समझती दुनिया
मेरी तन्हाई को,
मेरी आहें भी तो कुछ कहती हैं.

मर कर तमन्ना जीने के किसे नही होती,
रो कर खुश होने की तमन्ना किसे नही होती,
कह तो देते हैं जी लेंगे अपनों के बिना,
लेकिन अपनों की तमन्ना किसे नही होती.

यूँ तो पहले सदमो में भी हँस लेता था मैं,
पर आज क्यों बेवजह रोने लगा हूँ मैं,
वैसे तो हमेशा से हाथ खाली ही था मेरा,
फिर आज क्यों लगा सब कुछ खोने लगा हूँ मैं.

वक्त नूर को बेनूर कर देता है,
छोटे से जख्म को नासूर कर देता है,
कोन चाहता अपनी मोहब्बत से दूर रहना,
लेकिन वक्त सबको मजबूर कर देता है.

यूँ सजा न दे मुझे बेकसूर हूँ मैं,
अपना ले मुझे गमों से चूर हूँ मैं,
तू छोड़ गई हो गया मैं पागल,
और लोग कहते है बड़ा मगरूर हूँ मैं.

कितनी दूर निकल आये हम इश्क निभाते निभाते,
खुद को खो दिया हमने उनको पाते पाते,
लोग कहते है दर्द बहुत है तेरी आँखों में,
और हम दर्द छुपाते रहे मुस्कुराते मुस्कुराते.

किसी की चाहत पर हमे अब एतवार न रहा,
अब किसी भी ख़ुशी का हमे एहसास न रहा,
इन आँखों ने सपनो को टूटते देखा है,
इसलिए अब जिंदगी में किसी का इंतज़ार न रहा.

कभी ख़ुशी से ख़ुशी की तरफ नही देखा,
तेरे जाने के बाद किसी और को नही देखा,
तेरा इंतज़ार करना तो है लाज़िम,
इसलिए कभी हमने घड़ी की तरफ नही देखा.






Leave a comment